Top 100 Mohabbat Shayari in Hindi 2019 {100% Unique & Fresh}



Mohabbat Shayari in Hindi - If you are looking for Mohabbat Shayari in Hindi then you are at the correct page. We are going to sure some of the best and top 100 Mohabbat Shayari in Hindi today.

Top 100 Mohabbat Shayari in Hindi 2019

Top 100 Mohabbat Shayari in Hindi 2019


1. किसी के प्यार को पा लेना ही मोहब्बत नही होती, किसी के दूर रहने पर उसको पल पल याद करना भी मोहब्बत होती है|

2. बस रिश्ता ही तो टूटा है मोहब्बत तो आज भी हमे उनसे ही है|

3. जहर से अधिक खतरनाक हैं यह प्यार, जो भी चख ले मर मर के जीता हें|

4. मोहब्बत कैसी भी हो कसम से, सजदा करना सिखा देती है|

5. प्यार मोहब्बत आशिकी.ये बस अल्फाज थे| मगर जब तुम मिले तब इन अल्फाजो को मायने मिले|

6. ना जाने मुहब्बत में कितने अफसाने बन जाते है, शमां जिसको भी जलाती है वो परवाने बन जाते है, कुछ हासिल करना ही इश्क कि मंजिल नही होती, किसी को खोकर भी कुछ लोग दिवाने बन जाते है|

7. मोहब्बत की आजमाइश दे दे कर थक गया हूँ ऐ खुदा, किस्मत मेँ कोई ऐसा लिख दे जो मौत तक वफा करे|

8. वादो से बंधी जंजीर थी जो तोड दी मैँने, अब से जल्दी सोया करेंगे, मोहब्बत छोड दी मैँने|

9. वो जिस दिन करेगा याद मेरी मोहब्बत को, रोयेगा बहुत खुद को बेवफा कह कर|

10. उतर जाते है दिल मे कुछ लोग इस कदर, उनको निकालो तो जान निकल जाती है|

11. बहुत रोका लेकिन रोक ही नहीं पाया, मुहब्बत बढ़ती ही गयी मेरे गुनाहों की तरह|

12. ना हीरो की तमन्ना है और ना परियो पे मरता हूँ, वो एक भोली सी लड़की है जिससे मे मोहब्बत करता हूँ|

13. मोहब्बत करने वालों की कमी नहीं है दुनिया में, अकाल तो निभाने वालों का पडा है साहब|

14. दुःख में ख़ुशी की वजह बनती है मोहब्बत, दर्द में यादों की वजह बनती है मोहब्बत, जब कुछ भी अच्छा ना लगे हमें दुनिया में, तब हमारे जीने की वजह बनती है मोहब्बत|

15. मिलने को तो दुनियाँ मे कई चेहरे मिले, पर तुझ सी मोहब्बत तो हम खुद से भी ना कर पाये|

16. कमाल की मोहब्बत थी उनको हमसे, अचानक सुरू हुई अचानक ख़त्म हो गई|

17. मोहब्बत भी अजीब चीज बनायीं खुदा तूने, तेरे ही मंदिर में, तेरी ही मस्जिद में, तेरे ही बंदे, तेरे ही सामने रोते हैं, तुझे नहीं, किसी और को पाने के लिए|

18. मेरी महोब्बत के अपने ही उसुल है, तुम करो न करो पर मुझे साँसो के टुटने तक रहेगी|

19. बड़ा गजब किरदार है मोहब्बत का, अधूरी हो सकती है मगर ख़तम नहीं|

20. कमाल की मोहब्बत थी उसको हम से, अचानक ही शुरू हुई और बिन बतायें ही ख़त्म|

21. मुहब्बत में झुकना कोई अजीब बात नहीं, चमकता सूरज भी तो ढल जाता है चाँद के लिए|

22. मोहब्बत करने में चंद लम्हे लगते है| चोट खा कर भूलने में पूरी जिन्दगी लग जाती है|

23. काश कही से मिल जाते वो अल्फ़ाज़ हमे भी जो, तुझे बता सकते की हम शायर कम तेरे आशिक ज्यादा है|

24. मोहब्बत की मंजिल आसान नहीं है, इससे ऊंचा कोई आसमान नहीं है, भटकते हैं वह जो बेवफाई करते हैं, दिल में जिनके प्यार का अरमान नहीं है|

25. एक चाहत थी तेरे साथ जीने की| वरना मोहब्बत तो किसी से भी हो सकती थी|

26. जिस्म से होने वाली मोहब्बत आसान होती है, और रूह से हुई मोहब्बत को समझने में जिंदगी गुजर जाती है|

27. चली आती है तेरी याद मेरे जहन में अक्सर| तुझे हो ना हो तेरी यादो को जरूर मुझसे मोहब्बत है|

28. कितनी छोटी सी है ये जन्नत मेरी, एक मैं हूँ और एक मोहब्बत मेरी|

29. हसरत है सिर्फ तुम्हें पाने की, और कोई ख्वाहिश नहीं इस दीवाने की, शिकवा मुझे तुमसे नहीं खुदा से है, क्या ज़रूरत थी, तुम्हें इतना खूबसूरत बनाने की|

30. मोहब्बत को हद से गुजर तो जाने दो, वो रोयेंगे जरूर हमे बिखर तो जाने दो, अभी ज़िंदा हैं तो एहसास नहीं उनको, रो कर पुकारेंगे हमे एक दफा मर तो जाने दो|

31. मुझें छोड़कर वो खुश हैं तो शिकायत कैसी, अब मैं उन्हें खुश भी न देखूं तो मोहब्बत कैसी|

32. वफ़ा का दरिया कभी रुकता नही, इश्क़ में प्रेमी कभी झुकता नही, खामोश हैं हम किसी के खुशी के लिए, ना सोचो के हमारा दिल दुःखता नहीं|

33. अच्छा करते हैं वो लोग जो मोहब्बत का इज़हार नहीं करते, ख़ामोशी से मर जाते हैं मगर किसी को बदनाम नहीं करते|

34. ख़ामोशी मे जीने का लुत्फ़ वही उठा सकता है, जो फ़ना हो चूका हो रूहानी इश्क मे|

35. कुछ अजीब सा रिश्ता हो गया है, मेरे और उसके दरमियान, ना नफरत हो रही है और ना ही मोहब्बत|

36. मेरी तङप तो कुछ भी नही है| सुना है उसके दीदार के लिए आईने तरसते है|

37. मैने सिर्फ तुम से बेइन्तिहा मोहब्बत कि है, ना तुम को पाने के बारे मै सोचा है ना खोने के बारे मै|

38. जब कभी सिमटोगे इन बाहो मे आ कर, मोहब्बत की दास्तां हम नही हमारि धड़कने सुनाएंगी|

39. मुहब्बत तो दिल देकर, की जाती है मेरे दोस्त| चेहरा देखकर तो लोग,सिर्फ सौदा करते हैँ|

40. मोहब्बत क्या है चलो दो लब्ज़ों में बताते है, तेरा मजबूर करना मेरा मजबूर हो जाना|

41. कैसे ये कह दूं की तुमसे मोहब्बत नहीं, मुँह से निकला झूठ आँखों से पकड़ा जायेगा|

42. ऐ मोहब्बत, तूझे पाने की कोई राह नही| तू तो उसे ही मिलेगी जिसे तेरी परवाह नही|

43. रिश्तों में सदा प्यार की मिठास रहे, कभी न मिटने वाला एक एहसास रहे| कहने को तो छोटी सी है यह जिंदगी, मगर दुआ है कि सदा आपका साथ रहे|

44. इतना आसान नहीं है शहर मोहब्बत का यहां खुद भी भटकते हैं रास्ता बताने वाले|

45. जब हो जाये मेरी मोहब्बत पे एतबार, तो लौट आना हम आज भी तेरे इन्तजार में हैं|

46. ये सोचकर हमने ख़ुद को बेरंग रखा है, सुना है सादगी ही मोहब्बत की रूह होती है|

47. मोहब्बत हम दोनों की ना समझ पायेगी ये दुनिया, क्योंकि वो आँखों से देखेगी और हम रूह से प्यार करते है|

48. मोहब्बत और भी बढ़ जाती है जुदा होने से, तुम सिर्फ मेरे हो इस बात का ख्याल रखना|

49. देख कर उसको तेरा यूँ पलट जाना, नफरत बता रही है तूने मोहब्बत गज़ब की थी|

50. मेरी मोहब्बत की सच्चाई को तो देख, अब मैं तेरे नाम वालो से भी मोहब्बत से पेश आता हूं|

51. बजह पूछी जो गिरगिट से उसकी उदासी की मैंने, तो बोला शर्त हार गया हूँ तेरे महबूब से रँग बदलने में मैं|

52. मुझसे नही होता मिसाले दूँ दलीले दूँ, मेरी आँखों में लिखा है मुझे तुमसे मोहब्बत है|

53. मोहब्बत करने की बात हो तो किसी से भी कर लेंगे, मगर जो मोहब्बत होने की बात है वो तो बस तुमसे है|

54. अब तो शायद ही मुझ से मोहब्बत करे कोइ, मेरी आंखो मे तुम साफ नजर आते हो|

55. ख्वाबों में उनके सिवा कोई ख्वाब नहीं है, महफिल में उनके जैसा लाजवाब नहीं है, किताब और खिताब तो कहीं से ले लीजिए, बागों में उनके जैसा कोई गुलाब नहीं है|

56. जब किसी और के हो गऐ हो तो मेरे सपनों में भी मत आओ, जिसके पास गऐ हो ये दूआ है मेरी बस दिलसे उसीके हो जाओ|

57. मोहब्बत करने की बात हो तो किसी से भी कर लेंगे, मगर जो मोहब्बत होने की बात है वो तो बस तुमसे है|

58. गुरुर तो नहीं करते पर इतना यकीन जरुर है, अगर याद नहीं करोगे तो भुला भी नहीं पाओगे|

59. लाख समझाया तुझे शक करती है दुनिया, गुजर जाया कर मुस्कुराया ना कर|

60. करता नहीं है तुम से शिकायत ये दिल मगर, कहना ये चाहता है के तुम अब वो नहीं रहे|

61. मिलाकर होँठ होँठो से कहा उसने मुझको, कमी क्या है मेरे होँठो मे जो तुम शराब पीते हो|

62. दिल छिपा रखी है मुहब्बतें काले धन की तरह, खुलासा नही करते कहीं हंगामा न हो जाए|

63. मोहब्बत की गवाही अपने होने की ख़बर ले जा, जिधर वो शख़्स रहता है मुझे ऐ दिल| उधर ले जा|

64. अगर तू वजह न पूँछे तो एक बात कहूँ| बिन तेरे अब हमसे जिया नहीं जाता|

65. लोग हर बार यही पूछते हैं तुमने उसमें क्या देखा, मैं हर बार यही कहता हूँ, बेवजह होती है मोहब्बत|

66. हमने दुनिया में मोहब्बत का असर ज़िन्दा किया है, हमने दुश्मन को गले मिल मिल के शर्मिन्दा किया है|

67. तमन्ना ए इश्क़ तो हमभी रखते है किसी के दिल में हम भी धड़कते हैं, ना जाने हमें वो कब मिलेंगे जिस के लिए हम रोज़ तड़पते है|

68. मोहब्बत किससे और कब हो जाये अदांजा नहीं होता, ये वो घर है, जिसका दरवाजा नहीं होता|

69. कुछ तुम को भी अजीज है अपने सभी उसुल, कुछ हम भी इत्तेफाक से जीद के मरीज है|

70. जिस कदर तुमने भुला रखा है कभी सोचना| हम सब छोड़कर निकले थे एक तेरी मोहब्बत के लिये|

71. पागल नहीं थे हम जो तेरी हर बात मानते थे| बस तेरी खुशी से ज्यादा कुछ अच्छा ही नही लगता|

72. दूर कहाँ तेरे पास ही तो हुँ मैं देख मेरी शायरीयों में, मौजूद है तु मेरे एहसास बन कर|

73. मेरे दिल से निकलने का रास्ता भी न ढूंढ सके, और कहते थे तुम्हारी रग रग से वाकिफ है हम|

74. आँखों मे आ जाते है आँसू फिर भी लबो पे हसी रखनी पड़ती है, ये मोहब्बत भी क्या चीज़ है यारो जिस से करते है, उसीसे छुपानी पड़ती है|

75. ओ कागज का टुकड़ा आज भी फूलो की तरह महकता हैं| जिस पर कभी उसने लिखा था हमे तुमसे प्यार है|

76. उसकी जरूरत उसका इंतजार और अकेलापन, थक कर मुस्कुरा देता हूँ मैं जब रो नहीं पाता|

77. उसकी मोहब्बत का सिलसिला भी क्या अजीब है, अपना भी नहीं बनाती और किसी का होने भी नहीं देती|

78. गज़ब है तेरी याद का आना भी मेरे दिल में हमदम, रफ़्ता रफ़्ता तुजमें शामिल मेरी सांसें हो रही हो जैसे|

79. मेरी चाहतें तुमसे अलग कब हैं दिल की बातें तुम से छुपी कब हैं| तुम साथ रहो दिल में धड़कन की जगह, फिर ज़िन्दगी को साँसों की ज़रूरत कब है|

80. जो दोस्त इतनी ठण्ड में ये कह दे, भाई तू पीछे बैठ बाइक में चलाऊंगा| उसकी दोस्ती पर कभी शक मत करना|

81. उसको नही थी तो नही थी, मगर जो मुझे होने लगी थी, वो मोहब्बत झूठी नही थी|

82. ना समेट सकोगे कयामत तक जिसे तुम, कसम तुम्हारी तुम्हें इतनी मोहब्बत करुँगा मै|

83. मुझे दफनाने से पहले मेरा दिल निकाल कर उसे दे देना, मैं नही चाहता के वो खेलना छोङ दे|

84. सौ बार कहा दिल से चल भूल भी जा उसको, सौ बार कहा दिल ने, तुम दिल से नहीं कहते|

85. मोहब्बत का आँसू से, कुछ तो रिश्ता जरूर है| कभी ना रोने वाले की भी, इश्क़ में आँख भीग गई|

86. मोहब्बत मे मोहब्बत से मोहब्बत का दीदार किया, मैने मोहब्बत से कही ज्यादा तुझे प्यार किया|

87. मोहब्बत की सही पहचान इज्जत है, जो इज्जत नही कर सकता वो कभी सच्चा प्यार नही कर सकता|

88. वो शख्स जो कभी हारा ही नहीं किसी जंग में| मोहब्बत में सर कटवाने को तैयार बैठा है|

89. दिल तो किसी और देश का परिंदा है, सीने में तो रहता है मगर बस में नहीं रहता|

90. कोई ठुकरा दे चाहत को तो हंसकर सह लेना| मुहब्बत के तबियत में ज़बरदस्ती नहीं होती|

91. मोहब्बत मिली तो नींद भी न रही दोस्त, गुमनाम ज़िन्दगी थी तो कितना सकून था|

92. यूँ तो आदत नहीं मुझे मुड़ के देखने की, तुम्हें देखा तो लगा एक बार और देख लू|

93. पागल उसने कर दिया, एक बार देखकर, मै कुछ भी ना कर सका लगातार देखकर|

94. मैने दील के दरवाजे पर लीखा अन्दर आना सख्त मना है, मोहब्बत हंसती हुई आयी और बडे प्यार से कहा माफ करना मै तो अंधी हु|

95. मोहब्बत है तो कबुल करो सरेआम वो जो बन्द कमरो मेँ होता है, उसे हवस कहते है|

96. थोड़ा मैं, थोड़ी तुम, और थोड़ी सी मोहब्बत बस इतना काफी है, जीने के लिये|

97. उसकी ये मोहब्बत है तो कबुल करो सरेआम वो जो बन्द कमरो मेँ होता है, उसे हवस कहते है|

98. रब से आपकी खुशीयां मांगते है, दुआओं में आपकी हंसी मांगते है, सोचते है आपसे क्या मांगे, चलो आपसे उम्र भर की मोहब्बत मांगते है|

99. मैंने तो बस मोहब्बत ही की थी, फिर क्यों लग रहा है ऐसा, कोई गुनाह किया हो जैसा|

100. कहाँ आँसुओं की ये सौग़ात होगी, नए लोग होंगे नई बात होगी। मैं हर हाल में मुस्कुराता रहूँगा, तुम्हारी मोहब्बत अगर साथ होगी|

Related Tags: Mohabbat Shayari in Hindi