Top 100 Fanaa Shayari in Hindi 2019



Fanaa Shayari in Hindi 2019: Here is the list of top 20 Fanaa Shayari in Hindi 2019, we hope that you like our fresh collection of status.

Top 20 Fanaa Shayari in Hindi 2019

Top 20 Fanaa Shayari in Hindi 2019


1.
हर संस्कार सिखलाता है
कौन अपना कौन पराया
ये सब वक्त बतलाता है

2.
वक्त ऐसे-ऐसे दिन दिखा रहा है
अपने पराए का भेद बता रहा है

3.
तब सर में किसी का हाथ नहीं होता
जब वक्त हमारे साथ नहीं होता

4.
गधा भी शान से झूमता है
समय का पहिया जब
उसके पक्ष में घूमता है

5.
बड़े से बड़ा सूरमा भी हार जाता है
वक्त जिसके खिलाफ हो जाता है

6.
हम पर उन गलतियों के इल्जाम लगे
जिन गलतियों मेरा कोई हाथ ना था
अपनी बेगुनाही साबित भी कैसे करते
जब वक्त ही मेरे साथ ना था

7.
हमारी ही करनी, हमें ही दिखाता है
जब समय का चक्र घूम कर आता है

8.
हारी बाजी भी जीत जाता है
समय जिसके साथ होता है

9.
पूरा कर लेते हैं, अपना हर मकसद
जो बंदे होते हैं वक्त के पाबंद

10.
कभी गम, कभी खुशी
ये जिंदगी का खेल है
जीवन की पटरी पर दौड़ती
ये वक्त नामक रेल है

11.
हमारी ज़िन्दगी की जो किताब है
वक्त के पास मेरे हार कर्मो का हिसाब है

12.
तुम्हारा किया, तुम्हे ही बतलाता है
समय आइना जरूर दिखलाता है

13.
कर्मो के भी परिणाम बदल सकता है
समय हर सवाल के जवाब बदल देता है

14.
बिना रुके बिना थके, जो चलती है
वक्त की घड़ी, कभी नहीं रुकती है

15.
निरंतर प्रयास का फल जरूर मिलेगा
पर तब, जब समय तुम्हारे साथ होगा

16.
किसी इच्छा के पूरी ना होने की
तुझे क्यों शिकायत है
समय आने पर पूरी हो जाती
बंदे की हर चाहत है

17.
समय के द्वंद्व से तुम जूझते रहना
अपनी मंजिल पाने के लिए
अपने प्रयास जारी रखना
लगातार कोशिश करते रहना

18.
बुरे कर्मों का हिसाब हो जाता है
जब बुरा वक्त आता है

19.
बुरा वक्त भले ही रुलाता है
पर सीख पते की दे जाता है

20.
रिश्ते भी वक्त के साथ बदलते हैं
दुख में कोई हल भी पूछता नहीं
खुशी में आना कोई भूलता नहीं

1. आरज़ू थी फ़ना होने की शायद
जो इस दिल ने प्यार का इज़हार किया
दो पल भी ना बैठे थे वो पास मेरे
हमने जिनका था बरसो इंतेज़ार किया |

2. तेरे दिले में मेरी साँसों को पनाह मिल जाए
तेरे इश्क़ में मेरी जान फ़ना हो जाए.

3. ए खुदा आज ये फ़ैसला करदे,
उसे मेरा या मुझे उसका करदे.
बहुत दुख सहे हे मैने,
कोई खुशी अब तो मुक़दार करदे.
बहुत मुस्किल लगता है उससे दूर रहना,
जुदाई के सफ़र को कूम करदे.
जितना दूर चले गये वो मुझसे,
उसे उतना करीब करदे.
नही लिखा अगर नसीब मे उसका नाम,
तो ख़तम कर ये ज़िंदगी और मुझे फ़ना करदे.

4. फ़ना न कर अपनी ज़िन्दगी को ऐ इंसान राह -ऐ -जुनून में
तब करेगा इबादत जब गुनाह करने की ताक़त न होगी |

5. मैंने दिल के दरवाजे पर चिपका दी है एक चेतावनी,
फ़ना होने का दम रखना तभी भीतर कदम रखना..!!
==============================

1. Hum aaj joh faisla karte hai,
wahi hamare kal ka faisla karega.

2. Humse door jaoge kaise,
 dil se hum mein bhulaoge kaise,
hum woh khushboo hai joh saason mein bastein hai,
khud ki saason ko rok paoge kaise.

3. Kehte hai pyar mein neend udh jaati hai,
koi humse bhi mohabbat kare,
kambhakt neend bahut aati hai.

4. Phool hoon gulaab ka chameli ka mat samajhna,
aashiq hoon aapka apni saheli ka mat samajhna.

5. Tere dil mein meri saanson ko panaah mil jaye,
tere ishq mein meri jaan fanaa ho jaye.

6. Bekhudi ki zindagi hum jiya nahi karte,
jaam doosron se cheenkar hum piya nahi karte,
unko mohabbat hai toh aakar izhaar karen,
peecha hum bhi kisika kiya nahi karte.

7. Aag suraj mein hoti hai,
jalna zameen ko padta hai,
mohabbat nigahein karti hai,
tadapna dil ko padta hai.

8. Bhool karke agar humse koi bhool hui ho,
toh bhool samajhkar bhula dena
lekin bhulana sirf bhool ko,
galati se bhi hum mein na bhula dena.

9. Pani se pyaas nah bhuji toh maikhane ki taraf chal nikla,
soocha shikayat karoon teri khuda se,
par khuda bhi tera aashiq nikla.

10. Aisa laga khuda ne rakh diya hamare dil pe haath,
liya naam hamare unhone kuch aisi ada ke saath.

11. Dard se aankhen chaar kar lenge,
hum bhi imtihaan de denge,
teri dosti ke khatir aye dost,
 hum dushmano se bhi pyar kar lenge.

12. Jaan usse do joh apna dil tumhe de,
 lekin apna guroor sirf us pe kurbaan karo,
 joh tumhare pyar mein fanaa ho jaye.

13. Agar andha hota,
 toh duniya ki sabse haseen cheez dekh nahi pata ... aap

14. Insaan ki khwaish ki koi inteha nahi,
 do gaz zameen chahiye do gaz kafan ke baad.

15. Tumhari khoobsurati ne khuda se khatta kara di,
 kahin khud se nazar na lag jaye,
 yunkar tumhe nazar na di.

16. Adhoori saans thi,
 dhadkan adhoori thi,
adhoore hum ... magar ab chaand poora hai falak pe,
 aur ab poore hai hum.

17. Behti hai hoton ko seekar, pachtayengi aap
 ishq jaag uthta hai aksar, aaisi khamoshi ke baad.

18. Na shehar dekho na biyabaan dekho,
 khuda ka eklauta naam-o-nishaan dekho,
 bas aankh uthao aur Rehan dekho.

19. Kaash mein oon ka gola hota,
 aur unki ungliyon mein lipta hota.

20. Tujhe is bazaar ka dastoor main samjha nahi sakta,
 bik gaya joh woh khareedar ho nahi sakta.

21. Sharaab peene de masjid mein bahetkar ghalib,
 yah woh jagah dikha de jahan khuda na ho.

Romantic Shayari

22.
Aankhe To Pyar Mein Dill Ki Juban Hoti Hai,
Chahat To Sada Bejuban Hoti Hai,
Pyar Mein Dard Bhi Mile To Kya Ghabrana,
Suna Hai Dard Se Chahat Or Jawan Hoti Hai.

23.
Fir Wahi Fasaana Afsaana Sunaati Ho
Dil Ke Paas Hoon Kah Kar Dil Jalati Ho
Beqaraar Hai Aatish E Nazar Se Milne Ko
To Fir Kyon Nahi Pyaar Jataati Ho.

24.
Teri Har Ada Mohabbat Si Lagti Hain
Ek Pal Ki Bhi Judai Muddat Si Lagti Hain
Pehle Nahi Soocha Tha
Aab Soochne Lage Hain
Jindgi Me Har Pal Teri Jarroorat Si Lagti Hain.

25.
Aapke Husn Ko Dekhkar O Sanam,
Sabhi Jaane Kyun Ghas Khakar Gir Jaate Hain,

Aap Apne Husn Ko Kahin Chhupa Lijiye,
Varna Yeh Log Tog Bemout Mare Jaate Hain.

26.
जीने के लिए जान जरूरी है,
कुछ पाने के लिए अरमान जरूरी है,
चाहे जितने भी ग़म हो मेरी दुनिया में,
तुम्हारे लबों पर मुस्कान जरूरी है

27.
काश कि कहीं कोई खुशियों की एक दुकान होती,
और हमें उसकी पहचान होती,
ले लेते हम वहाँ से आपके लिए सारी खुशियाँ,
बेशक़ उनकी कीमत चाहे हमारी जान होती …

28.
आपके पास अगर हम चुप भी रहें तो बातें पूरी हो जाती हैं, आप में, आप से और आप पर ही हमारी दुनिया पूरी हो जाती है ।

29.
तुम्हें समा लिया हैं मैंने इन यादों में, फूलों सा किताबों में, इस दिल में रहोगे अब सिर्फ तुम हमेशा, बनकर खुशबू महकोगे मेरी सांसों में।

30.
रात क्या पूरी ज़िन्दगी ही बिता दूँ जागकर मैं तुम्हारे लिए, बस तुम एक बार कहकर तो देखो कई तुम्हें मेरे बिना नींद नहीं आती ।

31.
राह में संग चलूँ ये न गँवारा उसको,
दूर रहकर वो करता है इशारे बहुत,
नाम तेरा कभी आने न दिया होंठों पर,
यूँ तेरे जिक्र से शेर सँवारे हैं बहुत।

32.
हम भी कुछ प्यार के गीत गाने लगे हैं,
जब से ख़्वाबों में मेरे वो आने लगे हैं।

33.
तेरे रंग में ऐसे रंगीन हो गए हैं हम,
कि तेरे बिना जिंदगी के रंग फीके लगेंगे।

34.
तपती दोपहरी, गरम रेत पर…
ठंडे पानी की बूँदों जैसा काम कर गई…
तेरी आवाज़ जो कल सुनी मैंने…।

35.
नजरों को तेरे प्यार से इंकार नहीं है,
अब मुझे किसी और का इंतज़ार नहीं है,
खामोश अगर हूँ मैं तो ये वजूद है मेरा
तुम ये न समझना कि तुमसे प्यार नहीं है।

36.
आसमान पे चाँद जल रहा होगा,
किसी का दिल मचल रहा होगा,
उफ़ ये मेरे पैरों में चुभन कैसी है,
जरूर वो काँटों पर चल रहा होगा।

37.
सारी दुनिया की मुहब्बत से किनारा कर के
हमने रखा है फकत खुद को तुम्हारा कर के

38.
हिचकियाँ मेरी गवाह हैं
नींदें उसकी भी तबाह हैं

39.
Jiski Baato K Hmne Fasaane Likhe
Usne Shayad Kbhi Kuch Kahaa He Nahi

40.
Meri Aankh Ko Rihaayi De……..

Mujhe Har Jagha Naa Dikhayi De…..

41.
तेरे सीने से लगकर, तेरी आरजू बन जाऊँ,
तेरी साँसो से मिलकर, तेरी खुशबु बन जाऊँ,
फासले ना रहें कोई हम दोनो के दरमिआँ,
मैं, मैं ना रहुँ, बस तु ही तु बन जाऊँ ।।

42.
अपनी जिन्दगी का अलग उसूल है,

प्यार की खातिर तो कांटे भी कबूल है,

हँस के चल दूँ काँच के टुकडो पर,

अगर तू कह दे ये मेरे बिछाये हुए फूल है…

43.
खुदा करे, सलामत रहें दोनों हमेशा.
एक तुम और दूसरा मुस्कुराना तुम्हारा 🙂

44.
तेरी मौजूदगी महसूस वो करे जो जुदा हो तुझसे …

मैंने तो अपने आप में तुझे बसाया है एक धडकन की तरह..

45.
मैंने कब तुमसे मुलाकात का वादा चाहा,

मैंने दूर रहकर भी तुम्हें हद से ज्यादा चाहा.. ❤

46.
बहुत सुकून मिलता है जब उनसे हमारी बात होती है,
वो हजारो रातों में वो एक रात होती है,
जब निगाहें उठा कर देखते हैं वो मेरी तरफ,
तब वो ही पल मेरे लीये पूरी कायनात होती है।

47.
हकीकत कहो तो उन्हें ख्वाब लगता है,
शिकवा करो तो उन्हें मज़ाक लगता है,
कितनी शिद्दत से हम उन्हें याद करते हैं,
और एक वो हैं जिन्हें ये सब मजाक लगता है।

48.
ज़िन्दगी यूँ ही बहुत कम है, मोहब्बत के लिए,
फिर एक दूसरे से रूठकर वक़्त गँवाने की जरूरत क्या है।

49.
मैंने कहा जान है तू मेरी,
मैंने कहा ज़िन्दगी है तू मेरी,
कभी मुझसे जुदा होने की सोचना भी मत,
क्योंकि पहचान है तू मेरी।

50.
मुझे तो न कोई आसमान चाहिये,
मुझे तो न कोई जहाँ चाहिये,
तू तो सितारों की एक महफ़िल है,
बस उस पूरी महफ़िल में से बस एक तू चाहिए।

51.
Na Bejhti Ho Khat Kya Koi Khata Ho Gayi Hai,
Daak Ki Hadtaal Hai Ya Pata Kho Gaya Hai,

Kis Taraf Teri Najar Hai Kis Taraf Yeh Khyal Hai,
Paanv Gungru Chham Chham Morni Si Chal Hai,

Tere Mere Pyar Mein Najar Ki Najakat Chahiye,
Jab Milan Ki Raat Ho Tab Sarafat Chahiye….

52.
Mohalle Mein Nayi Maasuk Aaayi Hai,
Lekar Nakhre Purane,
Lajawab Husn Hai Log Mar Kar Hi Rahenge,

Moti Hai, Kaali Hai, Thigani Hai, To Hone De,
Use Lekar Konsa Tu Ghumne Ja Raha Hai Europ,

53.
Lipat Jaao Ek Baar Fir Gale Hamare,
Koi Deevar Na Rahe Beech Hamaare Tumhare,

Lipat Jaati Jaroor Agar Jamane Ka Dar Na Hota,
Bassa Leti Main Tumko Agar Seene Mein Ghar Hota,

54.
Tanhaion me ham aapko yaad bahut karte hai,
aap khush rahai karke ham o rab se fariyaad karte hai,
ham aapki mushkurahat dekne ke liya behsabri se intezar
Kar rahe hai,
Aap kya jaane mere jaan aapko dekne ke liye,
Ham be-inteha se tadap rahe hai…

55.
Tere Husn Ko Parde Ki Zaroorat Hi Kya Hai Zaalim,
Kon Rehta Hai Hosh Main Tujhe Dekhne K Baad…

56.
Itne Haseen Chehre Ko Dekh Kar Chand Bhi Sarma Gya,
Aaya Mere Paas Or Chupke Se Farma Gya,
Ke Jaa Rha Hu Main Chhupane Ko Apni Ye Khoobsoorti,
Kyu Ki Mujh Se Bhi Haseen Koi Aaya Or Iss Jahaan Per Chha Gya…

57.
तुम्हे निगाहों में बसाने को दिल चाहता है,
तुम्हारी बाहों में आने को दिल चाहता है,
ये दिल तुमसे इतनी मोहब्बत करता है,
कि तुम्हे अपनी ज़िन्दगी बनाने को दिल चाहता है

58.
कोशिश तो करता हूँ,
कि वक़्त से समझौता कर लूँ,
लेकिन इस पागल दिल में,
बसी चाहत मानती ही नहीं ।।

59.
तन्हाइयों में बुना करता हूँ,
तुम्हारे प्यार का मैं ताना-बाना,
एक सुकूं सा दे देता है,
तुम्हारा इस सुनसान दिल में आना-जाना।।

60.
हमारी निग़ाहों में झाँकने से पहले,
जरा इतना समझ लीजिये सनम,
अगर जो पलके झुका ली हमने,
तो क़यामत हो जाएगी,
और अगर नज़रें मिला ली हमने,
तो मोहब्बत हो जाएगी

61.
चाय के प्याले से निकलते धुएं में,
हमें आपकी मुस्कान नज़र आती है,
ऐसा खो जाते हैं हम आपकी यादों में,
कि अक्सर हमारी चाय ठंडी हो जाती है

61.
एक दिन उन्होंने हमसे,
क़यामत क्या है पूछ लिया,
हमने घबराकर उनसे,
तुम्हारा रूठ जाना कह दिया

62.
बेहद हसीं वो रात होती है,
जब भी आपसे दिल की बात होती है…

63.
सिर्फ मुझे ही नहीं,
मेरी आदत भी बदल दी,
तेरे प्यार ने मेरी,
इबादत ही बदल दी

64.
क्यों करते हो तुम,
मुझसे इतनी ख़ामोश मोहब्बत,
और लोग कहते हैं,
मुझ ग़रीब का कोई भी नहीं

65.
ज़िन्दगी में तुम्हारा साथ ही बहुत है,
हाथों में हमारे तुम्हारा हाथ ही बहुत है,
चाहे कितने भी अड़चने हो मोहब्बत में अपनी,
तुम्हारे इश्क़ का बस एहसास ही बहुत है

66.
तुम्हारी सांसों के साथ,
चलती है हमारी हर एक धड़कन,
और तुम पूछते हो,
कि हमने तुम्हे याद किया या नहीं

67.
जो कभी ना पा सके,
अब तक अपनी ज़िन्दगी गुजार कर,
वो सब कुछ मिल गया हमें,
बस एक तुम्हें पा कर

68.
मुझे इश्तिहार सी लगती हैं,
ये मोहब्बतों की कहानियाँ
जो कहा नहीं, वो सुना करो,
जो सुना नहीं, वो कहा करो

69.
गुलाब के फूल को हम कमल बना देते,
आपकी एक अदा पर कई गजल बना देते,
आप ही हम पर मरती नहीं… वरना
आपके घर के सामने ताजमहल बना देते।

70.
उदास आपको देखने से पहले ये आँखे न रहें,
खफा हो आप हमसे तो ये हमारी साँसें न रहें,
अगर भूले से भी ग़म दिए हमने आपको,
आपकी जिंदगी में हम क्या हमारी यादें भी न रहें।

71.
खुशियों की दामन में आँसू गिराकर तो देखिये,
ये रिश्ता कितना सच्चा है आजमा कर तो देखिये,
आपके रूठने से क्या होगी मेरे दिल की हालत,
किसी आइने पर पत्थर गिराकर तो देखिये।

72.
बात सिर्फ एहसास की है,
बिन छुए भी बहुत बार महसूस किया है मैने तुम्हें.

73.
न जाने किस तरह का इश्क कर रहे हैं हम,
जिसके हो नहीं सकते उसी के हो रहे हैं हम।

74.
रूबरू मिलने का मौका मिलता नहीं है रोज,
इसलिए लफ्ज़ों से तुमको छू लिया मैंने।

75.
जन्नत-ए-इश्क में हर बात अजीब होती है,
किसी को आशिकी तो किसी को शायरी नसीब होती है।

76.
इजहार-ए-मोहब्बत पे अजब हाल है उनका,
आँखें तो रज़ामंद हैं लब सोच रहे हैं।

77.
किसी से प्यार करो और तजुर्बा कर लो,
ये रोग ऐसा है जिसमें दवा नहीं लगती।

78.
मोहब्बत एक खुशबू है हमेशा साथ रहती है,
कोई इंसान तन्हाई में भी कभी तन्हा नहीं रहता।

79.
छुपाने लगा हूँ आजकल कुछ राज अपने आप से,
सुना है कुछ लोग मुझको मुझसे ज्यादा जानने लगे हैं।

80.
लौट जाती है उधर को भी नज़र क्या कीजे,
अब भी दिलकश है तेरा हुस्न मगर क्या कीजे।

81.
ये इश्क भी शराब का नशा जैसा है दोस्तों,
करें तो मर जाएँ और छोड़े तो किधर जाएँ।

82.
उसके लिये तो मैंने यहाँ तक दुआएं की है,
कि कोई उसे चाहे भी तो बस मेरी तरह चाहे।

83.
सुनसान सी लग रही है , आज ये शायरों की बस्ती,
क्या किसी के दिल मे , अब दर्द नहीं रहा?

84.
सब गुनाहगार हैं कुदरत के कत्ल में ।
यूँ ही ये हवाएं जहरीली नहीं हुईं ।

85.
नाम देने से कौन से रिश्ते सँवर जाते हैं
जहाँ रूह न बँधे दिल बिखर जाते हैं

86.
उसको तराश तराश कर, हीरा बना दिया मैने..
अब ये आलम है की ,मुझसे उसकी कीमत अदा नहीँ होती

87.
ज़नाज़ा इसलिए भारी था,
उस गरीब का,
वो अपने सारेअरमान साथ लेकर गया था!

88.
तुम रहोगे अब मुंतज़िर सितम देने को,
हम इश्क़ से अब अलविदा कह चुके.

89.
दर्द सबके एक है,
मगर हौंसले सबके अलग अलग है,
कोई बिखर के मुस्कुराया,
तो कोई मुस्कुरा के बिखर गया !

90.
इश्क को भी आधार से जोड़ दें जनाब,
जिन्हें मिल गया है दोबारा न मिले.

91.
सदा मसरूफ़ , शोख़ी और शैतानी में रहते थे,
कभी हम भी किसी दिल की निगाहबानी में रहते थे.

92.
ना कोई अहद निभा ना हमनवाई कर,
बस दिखावा छोड़ तसल्ली से बेवफ़ाई कर.

93.
दिल में प्यार का आगाज हुआ करता है,
बातें करने का अंदाज हुआ करता है,
जब तक दिल को ठोकर नहीं लगती,
सबको अपने प्यार पर नाज हुआ करता है.

94.
बनाये देश की अब इक नई मूरत किसे फ़ुर्सत
इन्हें मन्दिर बनाना है उन्हें मस्जिद बनाना है

95.
जरा-सा झूठ ही लिख दो
कि तुम बिन दिल नहीं लगता,
हमारा दिल बहल जाए
तो तुम फिर से मुकर जाना।

96.
आरजू थी तुम्हारी तलब बनने की,
मलाल ये है कि तुम्हारी,
लत लग गई.

97.
गजब का प्यार था… उसकी उदास आँखो में,
महसूस तक ना होने दिया कि वो छोड़ने वाला है।

98.
कभी मतलब के लिए तो कभी दिल्लगी के लिए…!!
हर कोई मोहब्बत ढूंढ रहा है यहाँ अपनी ज़िन्दगी के लिए…!!

99.
सारी दुनिया की मुहब्बत से किनारा कर के,
हमने रखा है फकत खुद को तुम्हारा कर के.

100.
कश्ती के मुसाफिर ने समन्दर नहीं देखा,
आँखों को देखा पर दिल मे उतर कर नहीं देखा,
पत्थर समझते है मेरे चाहने वाले मुझे,
हम तो मोम है किसी ने छूकर नहीं देखा.

Related Tags: Top 20 Fanaa Shayari in Hindi 2019