Top 100 Shayari Sanghrah in Hindi 2019 {100% Unique & Fresh}



Shayari Sanghrah in Hindi 2019 - It's best collection of the year, we have done the round up for the 2019. As well as, we have updated our list with only fresh and unique shayari in hindi 2019.


Shayari Sanghrah in Hindi 2019

Shayari Sanghrah in Hindi 2019


1. न तस्वीर है आपकी जो दीदार किया जाये, न आप पास हो जो प्यार किया जाये|

2. हम नादान थे जो उसको अपना हमसफर समझ बैठें, वो चलते तो हमारे साथ थे, मग़र किसी ऒर कि तलाश मेँ|

3. काश तूम पूछो क्या चाहिए, मे हाथ पकड कर कहु बस तेरा साथ चाहिए|

4. ख़वाहिश ऐ ज़िन्दगी बस इतनी सी है अब मेरी, की साथ तेरा हो और ज़िन्दगी कभी खत्म न हो|

5. साथ अगर दोगे तो मुस्कुराएंगे ज़रूर, प्यार अगर दिल से करोगे तो निभाएंगे ज़रूर कितने भी काँटे क्यों ना हों राहों में आवाज़ अगर दिल से दोगे तो आएंगे ज़रूर|

6. मेरे दुश्मन भी मेरे मुरीद है शायद, वक़्त बेवक्त मेरा नाम लिया करते है, मेरी गली से गुज़रते हैं छुपा के खंजर, रुबरु होने पर सलाम किया करते हैं|

7. ना रूठना हमसे हम मर जायेगे, दिल की दुनीया तबाह कर जायेगे, मोहबत की हे हमने कोई मजाक नही, दिल की धड़कन तेरे नाम कर जायेगे|

8. बदलना आता नहीं हमे मौसम की तरह, हर इक रुत में तेरा इंतज़ार करते हैं, ना तुम समझ सकोगे जिसे क़यामत तक, कसम तुम्हारी तुम्हे हम इतना प्यार करते हैं|

9. ऐ सनम कभी प्यार मत करना, हो जाये तो इंकार मत करना, निभा सको तो निभा देना, लेकिन किसी की जिंदगी बरबाद मत करना|

10. एक अजीब सा मंजर नजर आता है, हर एक आँसू संमनद नजर आता है, कहां रखुं मैं शीशे सा दिल अपना, हर किसी के हाथ में पत्थर नजर आता है|

11. लाखो की हंसी तुम्हारे नाम कर देंगे, हर खुशी तुम पे कुर्बान कर देंगे, आये अगर हमारे प्यार मे कोई कमी तो कह देना, इस जिन्दगी को आखरी सलाम कह देंगे|

12. हुस्न वाले जब तोड़ते हैं दिल किसी का, बड़ी सादगी से कहते है मजबूर थे हम|

13. तेरे हुस्न पर तारीफ भरी किताब लिख देता, काश के तेरी वफ़ा तेरे हुस्न के बराबर होती|

14. गुरुर ए हुस्न की मदहोशी में, उनको ये भी नहीं खबर कौन चाहेगा सिवा मेरे, उनको उम्र ढल जाने के बाद|

15. दिल्लगी नहीं शायरी जो किसी हुस्न पर बर्बाद करें, यह तो एक शमा है जो उस नूर का पयाम है|

16. हुस्न पर जब भी मस्ती छाती है, तब शायरी पर बहार आती है, पीके महबूब के बदन की शराब, जिंदगी झूम झूम जाती है|

17. जो फुर्सत मिले तो मुड़कर देख लेना मुझे एक दफ़ा, तेरे हुस्न से घायल होने की चाहत मुझे आज भी है|

18. आँखों में दोस्तो जो पानी है हुस्न वालों की ये मेहरबानी है, आप क्यों सर झुकाए बैठे हैं क्या आपकी भी यही कहानी है|

19. तुम मेरे पास रहे ये जरूरी तो नहीं, बस जहा भी रहो मेरा ही रहना|

20. ना रहेगा निशान, जहां तू कभी मौजूद था, मानो जैसे तेरी ना कोई हस्ती थी, ना ही कोई वजूद था|

21. अपने हो जाते है पराए एक पल में, आज तू हक़िक़त है, समा जाएगा तेरा नाम भी कल मे|

22. यहॉ तो सब कुछ दिखावा होता है, बांटता है ना कोई दुख, ना कोई किसि के लिये रोता है|

23. ना था तेरा कोई, ना तू किसिका अपना था, समझ बैठा जिसे तू सच, वो तो खैर एक सपना था|

24. पाया क्या है तूने यहॉ, जो खो जाएगा, जागेगा ना कोई तेरी याद मे, सारा जहां सो जाएगा|

25. एक दिन यमराज आए मेरे सपनों मे, ठंडी आवाज मे बोले, चल बहुत रह लिया अपनो मे|

26. हम दोनों डरते थे एक दुसरे से बात करने में, मुझे इश्क था इसलिए उसे इश्क ना हो जाए इस लिए|

27. इतने बेवफा नहीं की हम तुम्हे भूल जाए, अक्सर चुप रहने वाले प्यार बहुत करते है|

28. हमारी ज़िन्दगी में भी आया था कोई वफा करने, बस थोड़ी जल्दी में था चला गया|

29. किसे मालूम था इश्क इस कदर लाचार करता है, दिल जानता है वो बेवफा है फिर भी उसी से प्यार करता है|

30. साथ अगर दोगे तो मुस्कुराएंगे ज़रूर, प्यार अगर दिल से करोगे तो निभाएंगे ज़रूर, कितने भी काँटे क्यों ना हों राहों में, आवाज़ अगर दिल से दोगे तो आएंगे ज़रूर|

31. दिल की बात दिल में छुपा लेते हैं वो, हमको देख कर मुस्कुरा देते हैं वो, हमसे तो सब पूछ लेते हैं, पर हमारी ही बात हमसे छुपा लेते हैं वो|

32. दिल लगता नहीं है अब तुम्हारे बिना, खामोश से रहने लगे है तुम्हारे बिना, जल्दी लौट के आओ अब यही चाह है, वरना जी ना पाएँगे तुम्हारे बिना|

33. दिल की हसरत मेरी ज़ुबान पे आने लगी, तुमने देखा और ये ज़िन्दगी मुस्कुराने लगी, ये इश्क़ के इन्तहा थी या दीवानगी मेरी, हर सूरत में मुझे सूरत तेरी नज़र आने लगी|

34. इश्क है वही जो हो एक तरफा, इजहार है इश्क तो ख्वाईश बन जाती है,  है अगर इश्क तो आँखों में दिखाओ, जुबां खोलने से ये नुमाइश बन जाती है|

35. प्यार कर के कोई जताए ये ज़रूरी तो नहीं, याद कर के कोई बताये ये ज़रूरी तो नहीं, रोने वाले तो दिल में ही रो लेते हैं, किसी की आँख में आसूं आये ये ज़रूरी तो नहीं|

36. वक़्त तो दो ही कठिन गुजरे है सारी उम्र में, इक तेरे आने के पहले इक तेरे जाने के बाद|

37. प्यार वो है जिसमे सच्चाई हो, साथी की हर बात का एहसास हो, उसकी हर अदा पर नाज़ हो, दूर रह कर भी पास होने का एहसास हो|

38. तुझे भूलकर भी न भूल पायेगें हम, बस यही एक वादा निभा पायेगें हम, मिटा देंगे खुद को भी जहाँ से लेकिन, तेरा नाम दिल से न मिटा पायेगें हम|

40. तकदीर बनाने वाले, तूने भी हद कर दी, तकदीर में किसी और का नाम लिखा था, और दिल में चाहत किसी और की भर दी|

41. जब तक तुम्हें न देखूं, दिल को करार नहीं आता, अगर किसी गैर के साथ देखूं, तो फिर सहा नहीं जाता|

42. तेरे एहसासों की गरमी ने मुझे सोने न दिया, तेरी याद आयी तो अँशुआो को बहने न दिया|

43. डूबी है मेरी उंगलियां मेरे ही खून में, ये काँच के टुकड़ो पर भरोशे की सज़ा है|

44. वो चाहते है जी भर के प्यार करना, हम सोचते है वो प्यार ही क्या जिससे जी भर जाये|

45. ज़रा सी बात पे ना छोड़ना किसी का दामन, उम्रें बीत जाती हैं दिल का रिश्ता बनाने में|

46. उस शख्स को मै कैसे रुला सकता हूँ जिसे मैंने रो रो कर माँगा है|

47. जरूरी नहीं की हर रिश्ता बेवफाई से ही ख़त्म हो, कुछ रिश्ते किसी की ख़ुशी के लिए भी ख़त्म करने पड़ते है|

48. दिल मेरा चुरा कर वो बड़ी अदा से बोली, वापिस लेने आए तो जान भी लेलुंगी|

49. सिर्फ बेहद चाहने से क्या होता है नसीब भी साथ होना चाहिए किसी का प्यार पाने के लिए|

50. आदत सी लग गयी है तुझे हर वक़्त देखने की, अब इसे प्यार कहते है या पागलपन ये मुझे पता नहीं|

51. नहीं रहा जाता है तेरे बिना इसलिए तुझसे बात करते है, वरना हमे भी कोई शौक नहीं है तुझे सताने का|

52. ना तुम दूर जाना ना हम दूर जाएगे, अपने अपने हिस्से की दोस्ती निभाएंगे, बहुत अच्छा लगेगा ज़िन्दगी का ये सफर आप वहा से याद करना हु यहा से मुस्कुराएंगे|

53. घटिया लोगो की सबसे बड़ी पहचान यह है की उन्हें आप जितनी ज्यादा इज्ज़त दोगे वो आपको उतनी ही ज्यादा तकलीफ देंगे|

54. याद रखे खुशी दुसरो से बढती तो जरूरत है लेकिन दुसरो पर निर्भर नहीं करती|

55. हाथो की सारी लकीरे इन्सान को कर्म योगी नहीं बल्कि भ्रम भोगी ही बनती है|

56. जब नीद कम आने लगे और कदम लड़खड़ाने लगे तो समजना मेरे दोस्त की ज़िन्दगी की सही सुरुवात हो गई है|

57. लगता है शायद बड़ा हो गया हूँ मै, लोगो की बड़ी बड़ी बाते अब मुझे छोटी लगती है|

58. मोहब्बत दिल में कुछ ऐसी होनी चाहिए की वो हासिल भले ही दुसरे को हो पर कमी उनको ज़िन्दगी भर हमारी होनी चाहिए|

59. मोहब्बत मुकम्मल हो जाए तो ज़िक्र नहीं होता, अगर अधूरी रह जाए तो दास्ता बन जाती है|

60. ये इश्क का भी क्या अज़ीब रिवाज होता है, बेइन्तिहा होने के बावजूद भी लोगो से छुपाना होता है|

61. तुम सुनो तो बताए ज़ज्बात क्या थे, सारा दिन तुम समझो तो समझाए हालात क्या थे तुम बिन|

62. पूछा जो हुने उनसे की किसी और के होने लगे हो क्या, वो मुस्कुरा कर बोले पहले तुम्हारे थे क्या|

63. परवाह करने वाले अक्सर रुला जाते है, अपना कहकर पराया कर जाते है, वफा कितनी भी करो कोई फर्क नहीं, मुझे मत छोड़ना कह कर खुद छोड़ जाते है|

64. ज़िन्दगी में सबसे ज्यादा दर्द दिल टूटने पर नहीं यकीन टूटने पर होती है|

65. तकदीर को कुछ इस तरह से अपनाया है हमने, जो नहीं था तकदीर में उसे भी बेपनाह चाहा है हमने|

66. बात सच्ची है जो कहते है ये कहने वाले, दिल जलते है दिल में रहने वाले|

67. हम यही सोच कर उसकी हर बात को सच मानते थे, की इतने खुबसूरत होठ झूठ कैसे बोलेंगे|

68. सज़ा देनी हमे भी आता है ओं बेखबर, पर तु तकलीफ से गुजरे ये हमे मंज़ूर नहीं|

69. यूँ तो होते है रोब्रो चेहरे बहूत हर रोज़ मुझसे, लेकिन एऊह को सुकून जिससे मिले वो चेहरा तुम्हारा है|

70. कदर करने वाले लोगो को हमेशा बेकदर लोग ही मिलते है|

71. बदल जाते है वो लोग वक्त की तरह, जिन्हें हम वक्त से ज्यादा वक्त देते है|

72. अगर तुझे आज भी लगता है की में तेरे हुस्न पर मरता हूँ, तो सुन ले जब तेरी खूबसूरती खो देगी तो लौट कर आजाना|

73. हाथ पड़ने वालो ने तो परेशानी में डाल दिया मुझे, लकीर देख कर बोला तु मौत से नहीं किसी के याद में मरेगा|

74. औरत के लिए कोई व्रत नहीं करता फिर भी लम्बी उम्र जी लेती है, करती है राधा की तरह प्रेम मीरा की तरह विस पि लेती है|

75. महीने भर में करता हूँ इकट्ठे आँसू के सिक्के, फिर उसके दिल मे रहने का किराया भेज देता हूँ|

76. फासले तो बढ़ा रहे हो मगर इतना याद रखना, के मोहब्बत बार बार इंसान पर मेहरबान नहीं होती|

77. तेरी यादों का ढोल बजते ही, दर्द दिल में धमाल करता है|

78. वहम से भी अक्सर खत्म हो जाते हैं कुछ रिश्ते, कसूर हर बार गल्तियों का नही होता|

79. ज़िन्दगी की थकान में गुम हो गए वो लफ्ज़ जिसे सकुन कहते है|

80. हम समंदर है हमें खामोश रहने दो, ज़रा मचल गए तो शहर ले डूबेंगे|

81. तेरे सिवा कोई भी नाम पसंन्द नही दिल को, कुछ इस तरह से कब्जा किया है अदाओं ने तेरी|

82. एक हल्की सी झलक क्या मिली बेचैन नज़रों को, हज़ारों ख़्वाब दिल ने देख डाले चंद लम्हों में|

83. धडकनों को कुछ तो काबू में कर ऐ दिल, अभी तो पलके झुकाई है मुश्कुराना बाकि है|

84. कोई हार गया कोई जीत गया, ये साल भी आखिर बीत गया|

85. किसी ने आज ये कहके दिल तोड़ दिया, की लोग तेरे नहीं तेरे शायरी के दीवाने है|

86. वही मुझको अकेला कर गयी, जो कभी दुआओ में मांगती थी|

87. सोया हुआ है मुझमें कोई शख्स आज रात लगता है अपने जिस्म से बाहर खड़ा हूँ मैं|

88. धागा ही समझ, तू अपनी मन्नत का मुझे तेरी दुआओ के मुकम्मल होने का दस्तूर हूँ मैं|

89. इस शहर के अंदाज़ भी अजीब से हैं, गूँगों से कहा जाता है बहरों को पुकारो|

90. एक तुम भी ना कितनी जल्दी सो जाते हो, लगता है इश्क को तुम्हारा पता देना पड़ेगा|

91. रूबरू होने की तो छोड़िए लोग गुफ्तगू से भी कतराते है, गुरूर ओढे है रिश्ते अपनी हैसियत पे इतराने लगे है|

92. भूल कर बोहब्बत की जंगल में ना जाना तुम, यहा सांप नहीं इन्सान डसते है|

93. कोशिश कर रहा हुँ उसके बगैर जीने की, अगर जी गया तो इतिहास बन जाएगा और मर गया तो लाश|

94. बरबाद कर देती है मोहब्बत हर मोहब्बत करने वाले को क्यूकि इश्क़ हार नही मानता और दिल बात नही मानता|

95. जिन्दगी मे प्यार का मतलब वही समझ सकता है जिसका प्यार अधुरा रह गया हो|

96. रफ़्ता रफ़्ता बुझ गया चिराग़ ए आरजू, पहले दिल ख़ामोश था अब ख़्वाहिशें ख़ामोश हैं|

97. तुझे तो हमारी मोहब्बत ने मशहूर कर दिया बेवफ़ा, वरना तू सुर्खियों में रहे, तेरी इतनी औकात नहीं|

98. कब आ रही हो मुलाक़ात के लिए, मैंने चाँद को रोका है इक रात के लिए|

99. वो जो लाखो में एक होता हा ना मेरे लिए वो अनमोल शख्स हो तुम|

100. हर सागर के दो किनारे होते है, कुछ लोग जान से भी प्यारे होते है, यु जरूरी नहीं हर कोई पास हो क्युकी, ज़िन्दगी में यादे के भी सहारे होते है|

Related Tags: Shayari Sanghrah in Hindi 2019